मुख्य समाचार
  • Breaking News Will Appear Here

आज़म खान की देखी हेकड़ी, हार के बावजूद अधिकारी को धमकाया

 Sudarshan News Beuro |  2017-03-16 05:03:25.0

लखनऊ : यूपी चुनाव में जबरदस्त हार के बाद बौखलाए एसपी-बीएसपी नेता आजम खान रोजाना अपनी नाराजगी निकाल रहे है। किसी ने ईवीएम पर उंगली उठाई है तो कोई दोबारा बैलेट पेपर से चुनाव की मांग कर रहा है। सपा की करारी शिकस्‍त के बाद कद्दावर मंत्री आजम खान का नाराजगी से भरा एक वीडियो वायरल हो रहा है।

दरअसल, वाक्या रामपुर में उनकी जीत के बाद का है। जब वह अपनी जीत का सर्टिफिकेट लेने के लिए गये थे। इस दौरान बारिश होने के कारण रास्‍ते में कीचड़ था और मतगणना कार्यालय तक पहुंचने में उनको दिक्‍कत हुई। इस कारण आजम को गाड़ी से उतरकर पैदल चलना पड़ा। रास्‍ते में भी कीचड़ था। जब उस कीचड़ भरे रास्‍ते से वे पैदल चलकर जीत का सर्टिफिकेट लेने वह पहुंचे तो वहां मौजूद एक अधिकारी पर वह बरस पडे।


आजम खान अधिकारी से कह रहे हैं कि ये भी मोदी जी ने कहा था कि ऐसे लाना है, चलेंगे आप उस रास्‍ते पर। हम ये सर्टिफिकेट बाद में ले लेंगे, चलिए पहले उस रास्‍ते पर चलकर देखिए। अभी मैं सरकार में हूं अपमान नहीं सहूंगा और कार्रवाई करने का भी हक़ बनता है। आजम आगे कहते नजर आ रहे हैं कि ये बात हमारे लिए शर्म की है कि मंडी में इतनी गंदगी है, ये अच्‍छी बात नहीं है ये बुरी बात है। इतनी-इतनी कीचड़ और अभी सरकार है। अभी मैं मंत्री हूं और आचार संहिता हटने के बाद तक रहूंगा जब तक नई सरकार नहीं बनेगी और उन दो-तीन दिन में आप पर एक्‍शन लेने का हक भी मेरे पास होगा।

इतना ही नहीं आजम खान ने उस अधिकारी को अपने अहसान की याद भी दिलाते हुए कहा कि इसीलिए लाए थे हम आपको ट्रांसफर कराकर। आप तो कूड़े में पड़े हुए थे, रोए थे आप, इतनी जल्‍दी नजरें बदलते हो। इस रास्‍ते से हमें लाना आपको शोभा दिया, इतनी कीचड़ है। फिसल जाएं तो तमाशा बन जाएं, पूरी नेशनल न्‍यूज में। इस बीच आजम खान ने बड़ा बयान देते हुए जनादेश को मुसलमानों के खिलाफ बताया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इस दौरान ऐसे भी नारे लगे कि 'मोदी-मोदी कहना होगा या पाकिस्तान में रहना होगा'।

उन्होंने कहा कि भारत में अगर मुसलमानों से इतनी ही नफरत है तो हमको वोट करने का अधिकार क्यों दिया गया, हमसे ये भी अधिकार छीन लेना चाहिए। उन्होंने आगे कहा ये चुनाव लोकतांत्रिक मूल्यों पर नहीं हुआ। ये मैंडेट मुसलमानों के खिलाफ है। कमल चाहिए या कुरान चाहिए, श्मशान चाहिए या कब्रिस्तान चाहिए इन मुद्दों पर चुनाव हुआ। नतीजों के बाद से मुस्लिमों में खौफ है। आजम की इस बौखलाहट से एक बात को साफ है कि मुस्लिमों में खौफ हो ना हो लेकिन नतीजों के बाद से आजम खान पर खौफ जरूर देखा जा रहा है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top