मुख्य समाचार
  • Breaking News Will Appear Here

असम के बोडो से ले कर कश्मीर के फौजियों तक के बहुत पहले से शुभचिंतक रहे हैं योगी आदित्यनाथ

 Sudarshan News Beuro |  2017-03-19 12:04:36.0

असम के बोडो से ले कर कश्मीर के फौजियों तक के बहुत पहले से शुभचिंतक रहे हैं योगी आदित्यनाथ

तमाम अटकलों के बाद उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी शुरू से ना सिर्फ हिंदुत्व के स्तम्भ के रूप में जाने गए हैं बल्कि उनके राष्ट्रप्रेम की भी अक्सर मिसालें दी गयी हैं ,, भले ही उन्हें किन्ही दबावों के चलते सामने नहीं लाया गया .. उनके राष्ट्रप्रेम के कुछ प्रमाण निन्मलिखित हैं ..


1 - भारत नेपाल के मधुर रिश्तों के बीच योगी आदित्यनाथ जी का एक बेहद अहम रोल है .. नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्र के सासंद होने के कारण नेपाल में उनकी अच्छी पकड़ है . मदेशिया वर्ग जो नेपाल में एक बेहद मजबूत स्थिति में है उनके बीच श्री योगी आदित्यनाथ जी का बेहद सम्मान है .. उन्होंने धार्मिक व् सांस्कृतिक आधार पर नेपाल को भारत से मधुर सम्बन्धों के साथ जुड़े रहने में बहुत योगदान दिया है ..


2 - जब असम में बोडो अपने अस्तित्व की सार्थक लड़ाई अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों से लड़ रहे थे तब श्री योगी आदित्यनाथ जी ने संसद में खुले तौर पर असम के मूल निवासी बोडो का पक्ष लिया व् उन्हें ही असम का असली हकदार बताया ..


3 - अभी कुछ दिन पहले ही सेना और पत्थरबाजों के बीच बेहद गम्भीर स्थिति बनी थी जब मजबूर हो कर थलसेनाध्यक्ष को पत्थरबाजों के खिलाफ कडा बयान देना पड़ा था.. उस समय तमाम राजनैतिक दल पत्थरबाजों के समर्थन व् सेना के विरोध में खड़े हो गए थे ... उस समय योगी आदित्यनाथ जी गोरखपुर के सांसद होते हुए भी सेना के खिलाफ खड़े नेताओं की भर्त्सना की थी व सेना को खुल कर समर्थन किया था ..


4 - JNU के राष्ट्रविरोधी बयानों पर जब विवादित छात्रों से बड़े बड़े राजनेताओं ने मिलने की होड़ मचा राखी थी तब उस समय उन्होंने JNU

के राष्ट्रविरोधी नारे लगाने वाले छात्रों का विरोध करते हुए उन्हें राष्ट्रप्रेम की नसीहत दी थी ..


5 - तुष्टिकरण से उपजी घटना चाहे कश्मीर में हो या मुम्बई के आज़ाद मैदान में ,, श्री योगी आदित्यनाथ जी ने उनका सदा मुखर विरोध किया ..


6 - अपने जहरीले बयानों के लिए पूरे भारत में नफरत का पर्याय बनते जा रहे हैदराबाद के ओवैसी बंधुओं को सीधा प्रतिउत्तर श्री योगी आदित्यनाथ जी ने ही दिया था ...


7 - किसी भी तथाकथित स्टार ने जब भी अपनी सीमा लांघ कर धर्म आदि में अपना विरोधी स्वरूप दिखाया उस समय योगी आदित्यनाथ जी ने गोरखपुर में रहते हुए भी मुम्बई मायानगरी तक अपनी बात विरोध स्वरूप पहुचाई .. शाहरुख़ और आमिर खान इसके जीवंत उदाहरण हैं ..


उपरोक्त के अतिरिक्त ऐसे तमाम प्रमाण और तथ्य हैं जो प्रमाणिक रूप से साबित करते हैं कि योगी आदित्यनाथ हिंदुत्व और राष्ट्रप्रेम का एक बेहतरीन संगम हैं.. जिनका अब तक का जीवन पूर्ण भ्र्ष्टाचारमुक्त रहा है .... आशा है कि वो उत्तर प्रदेश की जनअपेक्षाओं पर पूरी तरह खरे उतरेंगे ...

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top