मुख्य समाचार
  • Breaking News Will Appear Here

केरल के पादरी का शर्मनाक बयान, कहा- जींस, टी-शर्ट पहनने वाली लड़कियों को समुद्र में डुबा देना चाहिए

 Sudarshan News Beuro |  2017-02-28 05:30:22.0

केरल के पादरी का शर्मनाक बयान, कहा- जींस, टी-शर्ट पहनने वाली लड़कियों को समुद्र में डुबा देना चाहिए

केरल : केरल में पादरी ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए लड़कियों के जींस, टी-शर्ट और शर्ट पहनने को लेकर शर्मनाक बयान दिया है। पादरी का कहना है कि जो महिलायें ऐसे कपड़े पहनती हैं उन्हें समुद्र में डूबा देना चाहिए। पादरी की यह बात एक वीडियो के द्वारा सामने आई है, यह वीडियो जैसमिन पीके नाम की लड़की ने फेसबुक पर शेयर किया था।

जिसमें पादरी साफ तौर पर कह रहे हैं कि इस तरह की वाहियात ड्रेस महिलाएं और लड़कियां, मर्दों को उकसाने के लिए पहनती हैं और बाद में जब उन लड़कियों या महिलाओं के साथ कुछ उल्टा-सीधा होता है तो वो मर्दों को दोष देती हैं, जबकि दोष उन्हीं का है। पादरी ने कहा कि जब मैं किसी चर्च जाता हू्ं, अगर मैं अपने सामने कुछ महिलाओं को खड़ा देखता हूं तो लगता है कि चर्च से बाहर चला जांऊ।


साथ ही कहा कि मोबाइल फोन उनके हाथ में होता है, बाल खूले रहते हैं। मुझे समझ नहीं आता है कि इन सब चीजों की चर्च में क्या जरुरत है। वह आगे कहता है कि क्या कैथोलिक चर्च आपको पुरुषों के कपड़े पहनने की अनुमति देता है? चर्च को जाने दो। क्या पवित्र बाइबिल आपको इसकी इजाजत देती है? मैं आपको बताना चाहूंगा कि बाइबिल क्या कहती है- मर्द को महिलाओं के कपड़े नहीं पहनने चाहिए और महिलाओं को पुरुषों के कपड़े नहीं पहनने चाहिए।

अगर आप ऐसा करते हो तो आप भगवान का अपमान करते हो। अगर आप गॉड के खिलाफ जाते हो तो आपका दया क्यों चाहिए। गौरतलब है कि यह वीडियो करीब 12 महीने पुराना है, लेकिन फेसबुक पर शेयर होने के बाद से यह दोबारा वायरल हो रहा है, वीडियो में पादरी कह रहा है कि महिलाएं यह सब कुछ आकर्षण के लिए करती हैं, वह पवित्र जगहों पर भी जींस, टी-शर्ट, शर्ट, पहनकर आती हैं, जहां इन सारी चीजों का आवश्यकता ही नहीं है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top