मुख्य समाचार
  • Breaking News Will Appear Here

अब सुखोई लड़ाकू विमान रह सकेंगे फिट, भारत और रूस के बीच हुए दो अहम समझौते

 Sudarshan News Beuro |  2017-03-18 07:58:19.0

अब सुखोई लड़ाकू विमान रह सकेंगे फिट, भारत और रूस के बीच हुए दो अहम समझौते

नई दिल्ली : भारत और रूस ने भारतीय वायुसेना के एसयू-30 एमकेआई बेड़े को मदद के लिए दो समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे विमान के रखरखाव और इसकी सेवा क्षमता में सुधार होगा। समझौतों के अनुसार, रक्षा क्षेत्र की दिग्गज रूसी कंपनियां - यूनाइटेड एयरक्राफ्ट कॉरपोरेशन और यूनाइटेड इंजन कॉरपोरेशन - तकनीकी मदद मुहैया कराएगी और पांच साल तक रखरखाव सेवाएं प्रदान करेंगी।

रूस के साथ दूसरा समझौता हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड और जेएससी यूनाइटेड इंजन कॉरपोरेशन के बीच रूस निर्मित इंजनों के पार्ट्स के इम्पोर्ट के लिए है। भारत में इर्कुट कॉरपोरेशन द्वारा खासतौर से भारत के लिए डिजाइन और एसएएल द्वारा महाराष्ट्र के नासिक में निर्मित लगभग 230 एसयू-30 एमकेआई हैं।


रक्षा मंत्री अरुण जेटली व रूस के व्यापार मंत्री डेनिस मांतुरोव के सामने हुए रक्षा समझौते की सबसे खास बात यह है कि सुखोई बनाने वाली रूसी कंपनी इस युद्धक विमान के लिए न सिर्फ लंबी अवधि तक कल पुर्जे की आपूर्ति करती रहेगी बल्कि उनका भारत में भी निर्माण किया जाएगा। यह आने वाले दिनों में भारत को तकनीकी हस्तांतरण की राह भी खोलेगा। भारतीय रक्षा मंत्रालय की तरफ से जारी सूचना के मुताबिक सरकार की मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत कुछ चयनित कल-पुर्जो का निर्माण किया जाएगा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top